पहले चीन ने रूस को दुश्मन करार दिया था, अब रूस से दोस्ती हो गई है, क्योंकि रूस के रास्ते वह यूरोप के बाजारों तक पहुंचना चाहता है. पाकिस्तान से उस की दोस्ती पुरानी है.