सवाल

मेरी शादी को 4 साल हो चुके हैं. हमारा रिश्ता हमेशा से ठीक रहा है लेकिन हम कभी एकदूसरे से दोस्त बन कर बात नहीं कर सके. मेरी औफिस में एक दोस्त है जिस से मेरी घनिष्ठ मित्रता है. मेरी पत्नी को अब उस के बारे में पता चला तो अचानक वह मुझ पर शक करने लगी जबकि ऐसा कुछ है ही नहीं. मेरे और मेरी दोस्त के बीच दोस्ती से ज्यादा कुछ भी नहीं है जबकि मेरी पत्नी यह मानने को तैयार नहीं है. उस के इस तरह शक करने से मैं बुरी तरह आहत हुआ हूं और अब मुझे अपनी पत्नी से बात करना भी अच्छा नहीं लगता. पता नहीं क्यों लेकिन मुझे उस की हर बात से चिढ़ होने लगी है. मुझे इस शादी से निकलने का मन करने लगा है.

ये भी पढ़ें- मेरे बच्चों की Lifestyle बदल गई है ऐसा लग रहा कि कहीं वे बीमार न हो जाएं, मैं क्या करूं?

जवाब

किसी एक झगड़े या कहें गलतफहमी के चलते आप अपने रिश्ते को खत्म करने की बात कर रहे हैं तो यह भला कैसे सही होगा. माना आप की पत्नी ने आप को समझने की कोशिश नहीं की लेकिन आप तो अपनी पत्नी को समझने की कोशिश कर सकते हैं. जब आप उन की परेशानी समझ जाएंगे तभी आप उन्हें अपनी बात समझा सकते हैं. उन्हें आप की दोस्ती से शिकायत है तो आप उन्हें क्लीयर बताइए कि बात क्या है. आप का उन से चिढ़ना या उन से बात न करने का मन होना निरर्थक है. आप खुद को उन की जगह रख कर देखेंगे तो शायद आप को उन की बात समझ में आएगी. यह मसला बैठ कर बात करने से सुलझ सकता है. इसे इतना उलझा कर रिश्ता तोड़ने की संभावना तक मत पहुंचिए.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • अनगिनत लव स्टोरीज
  • मनोहर कहानियां की दिलचस्प क्राइम स्टोरीज
  • पुरुषों की हेल्थ और लाइफ स्टाइल से जुड़े नए टिप्स
  • सेक्सुअल लाइफ से जुड़ी हर प्रॉब्लम का सोल्यूशन
  • सरस सलिल मैगजीन के सभी नए आर्टिकल
  • भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री की चटपटी गॉसिप्स
  • समाज और देश से जुड़ी हर नई खबर
Tags:
COMMENT